no-style

Dil Tod Ke Na Jaao: Shayari Collection

, 26 May WIB
कितने अजीब होते हैं ये
मोहब्बत के रिवाज,
लोग आप से तुम, तुम से जान
और जान से अनजान बन जाते हैं।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
आंसू निकल पड़े ख्वाब में
उसे दूर जाते देख कर,
आंख खुली तो एहसास हुआ
मोहब्बत सोते हुए भी रुला देती है।
💘💘💘




इस दिल को तेरे आने की आस रहती है,
निगाहों को तेरी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना किसी चीज़ की कमी तो नहीं,
पर तेरे बगैर ज़िन्दगी बड़ी उदास रहती है।
💕💕💕

हम तो शायर हैं सनम
अपना अंदाज़ जुदा रखते हैं,
लोग मंदिर मस्जिद में जाते हैं
हम दिल में खुदा रखते हैं।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
रास्ते अलग कर लेने से
एहसास नहीं मिटते साहब,
हम तब भी महकेंगे जब
पतझड़ का मौसम होगा।
💞💞💞
मुस्कुराने से शुरू
और रुलाने पे खत्म,
ये वो ज़ुल्म है जिसे
लोग मोहब्बत कहते हैं।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
लगा कर इश्क़ की बाज़ी
सुना है दिल दे बैठी हो,
मोहब्बत मार डालेगी
अभी तुम फूल जैसी हो।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
तेरे एहसास की खुशबू
मेरे रग-रग में समाई है,
अब तू ही बता दिलबर
क्या इसकी भी कोई दवाई है।
💘💓💘




कितना अलग है उनकी फितरत में
अंदाज़-ए-मोहब्बत,
रोज़ एक ज़ख्म दे के कहते हैं
अपना ख्याल रखना।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
इतना करीब आओ की
सांसो में समा जाओ,
सुनो तुम सुन रहे हो ना
मुझे तुम से मोहब्बत है।
सच्ची मोहब्बत एक जेल के कैदी की तरह होती है,
जिसमें उम्र बीत भी जाए तो सज़ा पूरी नहीं होती।
थोड़े नादान, थोड़े बदमाश हो तुम,
मगर जैसे भी हो, मेरे लिए बहुत खास हो तुम।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
चलो फिर से इशारों में कुछ बात हो जाए,
दो पल की ही सही, एक मुकम्मल मुलाकात हो जाए।
dil-tod-ke-na-jao-shayari-collection
उसने कहा दिखाओ अपनी हथेली
मैं किस लकीर में हूं,
मैंने कहा छोटी सी लकीर में नहीं
तुम मेरी हर धड़कन में हो।
🌷🌷🌷





Sad Shayari, Love Shayari, Judaai Shayari, Milan Shayari
Comments

Show

अभी दूसरे पाठकों द्वारा पढ़ा जा रहा है...