-->

    ये मेरी मोहब्बत थी या दीवानगी की इंतहा New Top Class Shayari

    फासले कब कम हुए है राबतो के बाद भी,

    अजनबी थे, अजनबी है मुद्दतों के बाद भी।

    New Top Class Shayari

    ❣️❣️❣️
    ये मेरी मोहब्बत थी या दीवानगी की इंतिहा,
    तेरे करीब से गुजर गया तेरे ही ख़यालो में।
    💓💓💓
    आग रोशनी देती हैं और जलना ज़मीन को पड़ता,
    मोहब्बत निगाहे करती है ओर तड़पना दिल को पड़ता है।
    💔💔💔
    new-top-class-shayari
    तेरे ही ख्वाबों की रंगीन तस्वीर हूं मैं
    अब मर्ज़ी तेरी,
    तू चाहे तो मिटा दे
    या दिल से लगा ले।
    💘💘💘
    चोर और आशिक़ में एक फर्क होता है,
    वैसे तो चोरी दोनों ही करते हैं पर
    चोर चुराई हुई चीज वापस नहीं लौटता
    और आशिक़ चुराए हुए दिल के बदले
    अपना दिल छोड़ जाता है।
    💓💓💓

    कैसी मोहब्बत है तेरी,

    महफ़िल में मिले
    तो अनजान कह दिया,
    तन्हाई में मिले
    तो जान कह दिया।
    🥀🥀🥀
    मुझे पढ़कर भी तुम
    जवाब नहीं देते हो ना,
    याद करोगे जब हम
    तेरे लिए लिखना छोड़ देंगे।
    💕💕💕

    ये कैसा सिलसिला है
    तेरे और मेरे दरमियाँ,
    फासले भी बहुत हैं
    और मोहब्बत भी बहुत।

    🌷🌷🌷
    बड़ा ही खामोश सा
    अंदाज़ है उसका,
    समझ नहीं आता
    फिदा हो जाऊं या
    फ़ना हो जाऊं।
    🌹🌹🌹
    सुना है तुम रातों को
    देर तक जागते हो,
    यादों के मारे हो या
    मोहब्बत में हारे हो।
    💞💞💞
    new-top-class-shayari

    सामान बाँध लिया है अब बताओ यारों,
    वे लोग कहाँ रहते हैं जो कहीं के नही रहते।

    💘💘💘
    उंगलियाँ थक गयी पत्थर तराशते तराशते,
    जब सूरत बनी यार की तो खरीदार आ गये।
    💝💝💝
    मैं तुझपे अपनी जान तक लुटा दूं,
    तू मुझसे मुझ जैसी मोहब्बत तो कर।
    💟💟💟
    तू एक भी बार हमसे मिली नही वरना,
    तेरे ही दिल को तेरे ही खिलाफ कर देते।
    ❣️❣️❣️
    इतनी लंबी उम्र की दुआ मत माँग मेरे लिए,
    ऐसा ना हो के तू भी छोड़ दे ओर मौत भी ना आए।
    💖💖💖
    उम्मीद नही तुझे पाने की फिर भी
    ये दिल इतना बेकरार क्यो है,
    मुझे पता है की मेरे किस्मत मे तू नही फिर भी
    इस दिल को तेरे आने का इंतजार क्यो है।
    💗💗💗

    Latest Posts