-->

    ये इश्क़ है या आशिकी की इंतेहा New Ishqiya Shayari

    मुझे मेरी पोस्ट के लिए कोई मैडल नहीं चाहिए
    बस आप सब जो दांत दिखाते हो ना वही मेरे लिये काफी है।
    😘😋😘

    कितना अच्छा लगता है ना जब मोहब्बत में कोई कहे
    क्यूँ करते हो किसी और से बात मैं काफी नहीं आपके लिए।
    💞💞💞

    New Ishqiya Shayari

    new-ishqiya-shayari
    हम तो फूलों की तरह
    अपनी आदत से बेबस हैं
    तोडने वाले को भी
    खुशबू की सजा देते हैं।
    🌹🌹🌹

    हम भी मुस्कराते थे कभी, बेपरवाह अन्दाज़ से
    देखा है आज खुद को, कुछ पुरानी तस्वीरों में।
    💔💔💔

    वो हाल भी ना पूछ सके हमे बेहाल देख कर
    हम हाल भी ना बता सके, उसे खुशहाल देख कर।
    💐💐💐

    सुनो, वक्त निकाल लो थोड़ा सा मेरे लिए
    मैं जिंदगी से निकल जाऊँ, उससे पहले।
    🥀🥀🥀

    मिल ही जाएगा हम को भी कोई ना कोई टूट के चाहने वाला
    अब शहर का शहर तो बेवफा नही होगा।
    💘💘💘

    खुद में भी तलाश किया
    लोगों से भी पूछा
    तेरे दूर जाने की वजह
    आज तक नहीं मिली।
    🥀🥀🥀

    Ye Ishq Hai Ya Aashiqi Ki Inteha

    मोहब्बत का कोई रंग नहीं फिर भी वो रंगीन है
    प्यार का कोई चेहरा नहीं फिर भी वो हसीन है।
    💓💓💓

    खामोश रहने का अपना ही मजा है
    नींव के पत्थर कभी बोला नहीं करते।
    🌷🌷🌷

    संबंध कभी भी जीतकर
    नहीं निभाए जा सकते
    संबंधों की खुशहाली
    झुकने और सहने से बढती है।
    💞💞💞

    हाँ हमको याद है वो दो दिन की मोहब्बत
    एहसान किया था हम पर भी किसी ने कभी।
    💐💐💐

    चलने की कोशिश तो करो
    दिशायें बहुत हैं
    रास्तो पे बिखरे काँटों से न डरो
    तुम्हारे साथ दुआएँ बहुत हैँ।
    🌹🌹🌹

    Latest Shayari

    आँखों से पढ़ी जाती है हया की कहानी
    नक़ाब कर लेने से कोई पारसा नहीं होता।
    💗💗💗

    मुकम्मल इश्क़ की तलबगार नहीं है आंखे
    थोड़ा थोड़ा ही सही, रोज तेरे दीदार की चाहत है।
    💕💕💕

    मकरंद सी तासीर, गुलकंद सी शख्सियत है इनकी
    कुदरत की रहमतें हैं ये, किसी-किसी पर ही बरसती हैं।
    🌹🥀🌹
    new-ishqiya-shayari
    उनके दिल में बहुत कुछ होता है,
    जिनकी जेब में कुछ नहीं होता।
    💘💘💘

    कोई फूलों से सीखे सरफ़राज़े ज़िन्दगी होना
    वही से फिर महकते हैं जहां से ख़ाक होते हैं।
    🌷🌷🌷

    उन्होंने कहा तुम्हारी आँखें बहुत खूबसूरत है
    हमने भी कह दिया आपके ख्वाब जो देखती हैं।
    💞💞💞

    Shayari Collection

    जवाब तो हर बात का दिया जा सकता है मगर
    जो रिश्तों की अहमियत न समझ पाया वो शब्दों को क्या समझेंगे।
    💔💔💔

    प्यास वो दिल की बुझाने कभी आया भी नहीं
    कैसा बादल है जिसका कोई साया भी नहीं।
    💖💖💖

    बेरुख़ी इससे बड़ी और भला क्या होगी
    एक मुद्दत से हमें उस ने सताया भी नहीं।
    💛💛💛

    मेरे ख़ाक होने के बाद
    जब खुदा मेरा हश्र पूछेगा
    कह दूंगा लाख गुनाह किए,
    तेरी रहमत के ज़ोर पे मैंने।
    ❤️❤️❤️

    एक तुम हो की कुछ कहती नहीं
    एक तुम्हारी यादें है की चुप रहती नहीं।
    💓💓💓

    ख्यालों के पर लगाके दिल को परिंदा कर लेता हूँ
    मैं याद में तेरी अक्सर ख़तों को ज़िन्दा कर लेता हूँ।
    💝💝💝

    बेखयाली में कभी उंगलियां जल जाएंगी
    राख गुज़रे हुए लम्हों की कुरेदा नहीं करते।
    💚💙💚

    प्यार कोई बोलकर
    दिखाने की चीज नहीं होती
    इसे बस दिल से
    महसूस किया जा सकता है।
    🥀🥀🥀

    अहसास मिटा,तलाश मिटी, मिट गई उम्मीदें भी
    सब मिट गया पर जो न मिट सका वो है यादें तेरी।
    💘💘💘

    किसी टूटे हुए मकान की तरह हो गया है ये दिल
    कोई रहता भी नही
    और कमबख्त बिकता भी नहीं।
    💝💝💝

    शायरी दिलवालो की

    ना ये महफिल अजीब है, ना ये मंजर अजीब है
    जो उसने चलाया वो खंजर अजीब है,
    ना डूबने देता है, ना उबरने देता है
    उसकी आँखों का वो समंदर अजीब है।
    💕💕💕

    सुकून की तलाश में निकला था मैं
    तो दर्द बोला
    औकात भूल गया क्या।
    💗💗💗

    मिली जो फुर्सत तो आएंगे और पियेंगे ज़रूर
    सुना है तुम चाय बनाती हो तो गलियां महक उठती हैं।
    😘😘😘

    ज़माने की शर्तो से शहंशाह बनने से बेहतर है की
    मैं अपनी शर्तो पे फ़क़ीर बन जाऊँ।
    🙏🙏🙏

    तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा
    तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा,
    मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है
    तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा।
    💓💓💓

    समस्या यह नहीं कि सच बोलने वाले कम हो रहे है
    समस्या यह है कि सिर्फ मर्ज़ी का सच सुनने वालों की तादाद बढ़ रही है।
    💐💐💐

    मुझे दोस्तों के साथ देखकर
    लौट जाते है गम
    कहते है इसका कुछ नही
    बिगाड सकते हम।
    🌹🌹🌹

    थोड़ा सा और निखर जाऊं, यही मैंने ठानी है
    ऐ जिंदगी, थोड़ा रुक, अभी मैंने हार कहाँ मानी है।
    🌷🌷🌷

    ठहर जाते तो शायद मिल जाते हम तुम्हें

    इश्क में इन्तजार किया करते हैं जल्दबाजी नहीं।
    💖💖💖

    हम ने समेटे दर्द दुनिया के
    तुम से एक हम ना सम्भाले गए।
    🥀🥀🥀

    यू भी रातों को सो कर नींद कहा आती है
    बन्द होती है बस पलके ओर तस्वीर उसकी नजर आती हैै।
    💘💘💘

    कैसे समेट लूँ अल्फाज़ो में तेरे इश्क़ को
    तेरी ये मोहब्बत नि:शब्द कर जाती है मुझे।
    ❤️❤️❤️

    Ishqiya Shayari

    तू भूल जा या याद रख
    तू याद है ये याद रख।
    💞💞💞

    हिम्मत तो इतनी थी कि
    समुद्र भी पार कर सकते थे
    मजबूर इतना हुए कि
    दो बुंद आंसूओं ने डुबा दिया।
    💔💔💔

    कयुँ बांधते हो किसी को जबरदस्ती की डोर में
    फड़फड़ायेगा तो जख्म होगा दोनों ओर में ।
    💗💗💗

    ये जमाना बहूत बदल गया है  ऐ चाहने वाले,
    अब कहाँ है वो पुराने शख्स, वो दिलवाले।
    💐💐💐

    आखिरी सांस तक
    मुझे बेगाना न समझना
    मोहब्बत तो तुम्ही से करूँगा
    आखिरी सांस तक।
    💖💖💖

    निकाल दो अपना ऐ बनावटी चेहरा
    खुदा कसम हर नकाव को
    बेनकाब कर देगा आपका चेहरा।
    ❤️❤️❤️
           
    तारीखों मैं तय नही होती
    इश्क की मौजूदगी
    बिखरना पड़ता है
    किसी को रूह से चाहने के लिए।
    🌹🌹🌹

    दो ही गवाह थे मेरी मोहब्बत के
    वक़्त और वो
    एक गुज़र गया और दूसरा मुकर गया।
    🥀🥀🥀

    Latest Posts