वोट करें | क्या आप चाहते हैं कि अगली बार केंद्र में "आज़ाद समाज पार्टी" की सरकार बने

Survey on Azad samaj party





साल 2014 में देश की जनता ने बड़ी उम्मीदों के साथ भाजपा और उसके सहयोगी दलों को वोट दिया था। सबको उम्मीद थी कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश काफ़ी आगे जाएगा और सबका विकास होगा।

यही उम्मीद 2019 में भी दोहराई गयी और भाजपा दूसरी बार पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आई। लेकिन फिर धीरे धीरे लोगों को ये एहसास होने लगा कि उनसे बहुत बड़ी भूल हो गयी है। क्योंकि मोदी सरकार के आने के बाद देश की जनता लगातार रोड पर ही है। कभी नोटबन्दी को लेकर कभी भारी जीएसटी को लेकर, कभी बलात्कार की घटनाओं पर सरकार की चुप्पी को लेकर कभी मोब्लिंचिंग तो कभी दलितों और अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार पर सरकार की चुप्पी को लेकर। और अब एनआरसी एनपीआर और संविधान बचाओ अभियान को लेकर।
survey-on-azad-samaj-party
आज के इंटरनेट युग के कारण ये सबको पता है कि पिछले छः सालों में देश में बेरोजगारी और मंहगाई कितनी ज़्यादा बढ़ गयी है। जो पहले से ही बहुत अमीर थे वे अब और ज़्यादा अमीर हो चुके हैं और देश के अधिकतर लोग जो मीडियम क्लास के या गरीब थे वे अब बहुत ज़्यादा गरीब हो चुके हैं। लेकिन सरकार अब भी धर्म और जाति की राजनीति पर ही अटकी है। और बाबा साहेब अंबेडकर द्वारा लिखित संविधान से छेड़छाड़ करने की कोशिशें हो रही हैं। इस बीच कई बार तो असमाजिक तत्यों द्वारा बाबा साहेब की मूर्ति को तोड़ने की भी घटनाएं हुईं लेकिन तब भी उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया। जिस कारण दलित और अल्पसंख्यक समाज वर्तमान सरकार से काफी नाराज है।

ऐसे में समझा जा रहा है कि जनता फिर से बदलाव के मूड में है और अगली बार वो ऐसे व्यक्ति को केंद्र में भेजना चाहती है जो जनता का दुख दर्द समझता हो और जो सिर्फ विकास पर ध्यान दे ना कि धर्म जाति पर।

शायद इसी लिए लोगों का ध्यान आज़ाद पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर रावण पर टिकी है। क्योंकि दलित और अल्पसंख्यक समाज में चंद्रशेखर रावण अपनी साफ सुथरी छवि के कारण काफी लोकप्रिय होते जारहे हैं। और वह चूंकि खुद दलित समाज से हैं तो जाहिर है वो बाबा साहेब के सपनों को साकार करने की पूरी कोशिश भी करेंगे।

इसी लिए कहा जा रहा है कि अगर दलित समाज और अल्पसंख्यक समाज एक हो जाएं तो अगली बार केंद्र में चंद्रशेखर की पार्टी "आज़ाद समाज पार्टी" की सरकार बनना निश्चित है।

तो फ्रेंड्स क्या आप भी चाहते हैं कि अगली बार केंद्र में "आज़ाद समाज पार्टी" की सरकार बने। वोट करें और इसको अधिक से अधिक शेयर करें ताकि दूसरे लोग भी इस सर्वे में हिस्सा ले सकें, धन्यवाद।

क्या आप चाहते हैं कि अगली बार केंद्र में "आज़ाद समाज पार्टी" की सरकार बने ?
हाँ
नहीं


No comments

Post a Comment

Home