Welcome To ExposeTime.com

News Expose - The Dirty Politics

- 4/06/2018
हेल्लो फ्रेंड्स.... News Expose - The Dirty Politics सिरीज़ में आपका स्वागत है, ये सिरीज़ उन लाखों पाठकों को ध्यान में रखकर शुरू किया गया है जो राजनीति में गहरी दिलचस्पी रखते हैं, या फिर जो गन्दी राजनीति  के शिकार हुए हैं।

इस सिरीज़ को शुरू करने का हमारा मकसद उन समाज सेवक भाई बहनों को समर्थन करना और उनकी हौसला अफजाई करना भी है जो बिना किसी स्वार्थ और बिना किसी भेद भाव के हमारे समाज की एकता को बनाये रखने में लगे हुए हैं। ऐसे महान लोगों को हमारा और हमारी टीम का सलाम।

news-expose-the-dirty-politics




News Expose - The Dirty Politics


दोस्तों एक शब्द है "शैतान"... शैतान कैसा होता है ? क्या करता है ? कहाँ रहता है ?? इन सब बातों की मुझे ज़्यादा जानकारी नहीं है और ना ही ये आज का हमारा Topic है.
मैं जिन शैतानों की बात करने जा रहा हूँ वे कहीं और नहीं बल्कि हमारे और आपके बीच में ही रहते हैं, वे इंसानो के रूप में ही होते हैं और इंसानों को तोड़ना और उनके बीच खाई पैदा करना ही उनका काम होता है।
उन शैतानों का कोई धर्म नहीं होता कोई मज़हब नहीं होता... वे ना तो सच्चे हिन्दू होते हैं और ना ही सच्चे मुसलमान।
अब आप सोच रहे होंगे कि वे इंसान हो कर भी ऐसा क्यों करते हैं ? ऐसा करके उनको क्या मिलता है ?



सीधा सा जवाब है... नफ़रत फैला कर उनको भी वही मिलता है जो हमारे कुछ नेताओं और कुछ बिकाऊ मीडिया को मिलता है।
यानी ऐसा करने से ऊपर बैठा "सरदार" खुश होता है, शाबाशी देता है और उनकी रोज़ी रोटी चलती है।

ताज़ा उदाहरण है बंगाल और बिहार।
news-expose-the-dirty-politics
जब बंगाल में दंगा भड़का तो हमारे कुछ नेताओं और बिकाऊ मीडिया ने ये बताने की कोशिश की कि चूंकि वहां भाजपा की सरकार नहीं है इसलिए दंगे हुए, साथ में ये बताकर भी फूट डालने की कोशिश की गई कि वहां की ममता सरकार हिंदुओं की दुश्मन है.. लेकिन वही दंगा जब भाजपा समर्थित सरकार बिहार में हुआ तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकला।
बिहार की राजनीति के साथ भी लगभग वैसा ही कुछ हुआ, यानी बिहार दंगे को मुसलमानों के ख़िलाफ़ साज़िश बता कर अलग रंग देने की कोशिश की गई, और ज़ाहिर है ऐसा करने वाले वही लोग थे जो बंगाल दंगे के वक्त खामोशी का व्रत रखे हुए थे।
news-expose-the-dirty-politics
क्या आप ने कभी सोचा है कि जो लोग बंगाल में मारे गए वे कौन थे ? और जो लोग बिहार में मारे गए वे कौन थे ?

अगर धर्म से ऊपर उठकर सोचेंगे तो पता चलेगा कि वे हिन्दू नहीं थे, वे मुसलमान भी नहीं थे, बल्कि जो लोग भी Dirty Politics का शिकार हो कर मारे गए वे सभी हिंदुस्तानी थे... हमारे भाई थे।
ठीक इसी तरह अभी कुछ दिन पहले सीरिया में 39 भारतीयों के मारे जाने की News Expose हुई थी, उस वक्त भी सारे बिकाऊ news channels ने इस ख़बर को अलग तरह से पेश किया था, उन्हों ने ये प्रूफ़ करने में कोई कसर नही छोड़ी थी कि सीरिया में बंधक बनाए गए उन भारतीयों को केवल हिन्दू होने के कारण मारा गया।
इस News को इतना मिर्च मसाला लगाकर दिखाया जा रहा था की असली शैतान भी शरमा जाए। ज़ाहिर है जो लोग भी इसमें लगे थे उनका मक़सद था धार्मिक उन्माद फैला कर हमारे बीच नफरत पैदा करना, क्योंकि ये बात सारी दुनिया जानती है कि सीरिया में अब तक लाखों मुसलमान मारे जा चुके हैं, अगर 39 भारतीयों को हिन्दू होने की वजह से मारा गया तो फिर उन लाखों मुसलमानों को क्यों मारा गया ??
स्पष्ट है यहां भी हिन्दू मुसलमान वाली कोई बात नहीं थी।



और सबसे ज़्यादा आश्चर्य और दुख तो तब हुआ जब ये पता चला कि उनकी हत्या बहुत पहले कर दी गयी थी जबकि हमारी एक कद्दावर, दमदार और काबिल नेता और मंत्री सदन में ये बता चुकी थी कि वे क़ैद में फंसे भारतीयों के कांटेक्ट में हैं और फ़ोन पर लगातार उनकी खबर ले रही हैं।
जिन भारतीय भाइयों को बहुत पहले मारा चुका था उनसे मंत्री जी की बात कैसे होती थी ??
ताज्जुब है ??
news-expose-the-dirty-politics
बात यहीं खत्म नहीं होती, News Expose - The Dirty Politics के आने वाले अंकों आप पढ़ेंगे: राजनीति अभी जारी है।

आज के हालात में सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा, हम बुलबुले हैं इसकी ये गुलसितां हमारा  को इस नए version मेंं 
पढ़ना ज़्यादा उचित रहेगा..

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा ,

सैयाद हैं हम इसके बुलबुल है ये हमारा ।

गोदी मे हो रहे है जिसके ही रोज दंगे ,
डाकू हमीं है इसके ये कारवां हमारा ।
यहाँ रोज़ बन रहे है मस्जिद हो या शिवालय ,
इंसानियत को हमने कुत्ते की मौत मारा ।
सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा।
वर्तमान स्थिति को देखते हुए हमें धर्म जाति और राजनीति से ऊपर उठकर अपने देश और समाज की एकता को मज़बूत बनाना होगा, हमारे बीच छुपे इंसान रूपी शैतानों की पहचान कर उनसे दूर रहना होगा, और उनके नापाक मंसूबों को नाकाम करना होगा..

हमें ज़रूरत है जागरूकता की, हमें ज़रूरत है एकता की, हमें ज़रूरत है तरक्की की, हमें ज़रूरत है उज्ज्वल भविष्य की..
और ये तभी संभव है जब हमारा देश मज़बूत होगा, ये तभी संभव है जब हमारा समाज जागरूक होगा, और ये सब तभी संभव होगा जब हम धर्म-जाति और राजनीति से ऊपर उठेंगे।


मैं ये नहीं कहता आप हिन्दू नहीं बनो, मैं ये नहीं कहता आप मुसलमान नही बनो, लेकिन आप जो भी बनो पूर्ण रूप से बनो... अगर आप हिन्दू हो तो वेद पुराण की बातों का पालन करने वाले बनो, अगर आप मुस्लिम हो तो क़ुरान हदीस की बातों पर अमल करने वाले बनो।
क्योंकि कोई भी मज़हब कोई भी धर्म हमें तोड़ने की नहीं बल्कि जोड़ने की शिक्षा देता है, कोई भी धर्म नफ़रत को पसन्द नहीं करता।

News expose - The dirty politics  के आने वाले अंकों में आप देखेंगे "Expose Gallery" जिसमें देेेश और दुनिया के मौजूदा हालात
को तस्वीरों के माध्यम से दिखाया जाएगा, साथ में आप पढ़ेंगे राजनीति अभी जारी है और जलता हिंदुस्तान- कौन है असली गुनाहगार?
news-expose-the-dirty-politics
दोस्तों, ये हमारी एक छोटी सी कोशिश है समाज को जागरूक बनाने की, अगर आप हमारे साथ हैं और आप भी हमारे इस मिशन से जुड़ना चाहते हैं तो इस साइट को Subscribe कर नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपनी राय ज़रूर दें और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ और सोशल साइट्स पे अधिक से अधिक शेयर करें.. धन्यवाद।


EmoticonEmoticon

 

Start typing and press Enter to search